2010 FR (465824) उल्कापिंड 6 सितंबर को हमारी धरती से टकरा सकता है पिरामिड से 2 गुना बड़ा उल्कापिंड धरती के लिए बना खतरा

 2010 FR (465824) Asteroid / उल्कापिंड

क्या हमारी धरती एक बार फिर से खतरे में है क्या 6 सितंबर को हमारी धरती से कोई उल्का पिंड टकराने वाला है इसी तरह की खबरें एक बार फिर से सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही है और इस खबर को बड़े-बड़े न्यूज़ चैनल ने अपने आर्टिकल में जगह दी है जी हां दोस्तों इस खबर के अनुसार 6 सितंबर को एक पिरामिड से 2 गुना बड़ा एक्स्ट्रा हमारी तरफ से टकरा सकता है उल्का पिंड का नाम है 2010FR दोस्तों इस उल्कापिंड का दूसरा नाम 465824 है क्या यह उल्कापिंड हमारी धरती से टकरा जाएगा जिस तरह से वायरल खबरों में इस उल्कापिंड के बारे में बताया जा रहा है लगता तो ऐसा है  कि यहां 6 सितंबर को हमारी धरती से टकरा जाएगा तो चलिए जानते हैं इस उल्का पिंड के बारे में

आने वाले समय में यह उल्कापिंड धरती से टकरा जाएगा यहां क्लिक करें

2010 FR उल्कापिंड का आकार

दोस्तों अगर 2010 FR / 465824 इस उल्कापिंड के आकार की बात करें तो यह आकार में काफी बड़ा है और इतने बड़े उल्कापिंड कभी कभार ही हमारे धरती के करीब आते हैं वैज्ञानिकों के अनुसार इस उल्कापिंड का आकार 720 मीटर का है यानी कि इसकी चौड़ाई 720 मीटर की है और लंबाई 740 मीटर की है वैज्ञानिकों ने 2010 FR उल्कापिंड की तुलना गीजा के पिरामिड से  की है गीजा के पिरामिड से 2 गुना बड़ा  उल्कापिंड बताया जा रहा है

2010 FR / 465824 उल्का पिंड की रफ्तार

दोस्तों इस उल्कापिंड के रफ्तार की बात करें तो इसकी रफ्तार आम उल्कापिंड से काफी ज्यादा तेज है वैज्ञानिकों के अनुसार 2010 एफ आर  (465824) उल्का पिंड की रफ्तार 50,000 किलोमीटर प्रति घंटा है अगर इस रफ्तार को सेकंड में डिवाइड करें तो 14 किलोमीटर पर सेकंड कि रफ्तार से हमारी धरती की तरफ बढ़ रहा है और 6 सितंबर को यह हमारी धरती के बेहद करीब होगा और इसकी तेज रफ्तार और बड़े आकार की वजह से यह हमारी धरती के लिए खतरा साबित हो सकता है
दोस्तों इस उल्कापिंड के हमारे धरती के करीब से गुजरने का समय और तारीख की बात करें तो नासा के वैज्ञानिकों के अनुसार यह 6 सितंबर को हमारी धरती के करीब से गुजरेगा और भारतीय समय के अनुसार दोपहर 3:30 पर यह हमारी धरती के बेहद करीब से गुजरेगा 2010 FR (465824) दोपहर 3:30 मिनट पर यह हमारी धरती को क्रॉस करेगा और तब हमारी धरती के करीब से यह 50,000 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गुजरेगा

2010 FR (465824) उल्का पिंड कब खोजा गया

2010 FR (465824) उल्का पिंड आज से 10 साल पहले खोजा गया था खोजा गया था दोस्तों इस उल्कापिंड को 2010 में खोजा गया था इसलिए इस उल्कापिंड को 2010 एफ आर से भी जानते हैं

2010 FR (465824)धरती के लिए खतरा बन सकता है या नहीं

दोस्तों 2010 FR (465824)इस उल्कापिंड से धरती को खतरा हो सकता है या नहीं नासा के मुताबिक यह उल्कापिंड जब धरती के करीब से गुजरेगा और धरती के वायुमंडल में प्रवेश करेगा वह प्रक्रिया काफी खतरनाक हो सकती है क्योंकि तब धरती का गुरुत्वाकर्षण बल इसे धरती की तरफ खींच सकता है और अगर ऐसा हुआ तो यह उल्कापिंड धरती पर मौजूद किसी जगह या फिर समुद्र में गिर सकता है लेकिन सेंटर नियर अर्थ ऑब्जेक्ट (centre near Earth object) के वैज्ञानिकों  की माने तो यह उल्कापिंड 6 सितंबर को हमारी धरती के करीब से गुजर जाएगा और इस उल्कापिंड के धरती से टकराने के ज्यादा संभावना नहीं है और कई स्पेस एक्सपर्ट और वैज्ञानिकों का भी यही कहना है कि यह धरती के करीब से होकर गुजर जाएगा 2010 FR (465824)इस उल्कापिंड से हमारे धरती को कोई खतरा नहीं है

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पटेल समाज क्रिकेट प्रतियोगिता बडावली 2020 सभी टीमों का रिजल्ट "बाणाकला" चैंपियन

मृत्युभोज बंद होना चाहिए या नहीं मृत्युभोज एक कुप्रथा है समाज में मृत्युभोज बंद करें

area 51 kya hai | area51 क्या है | aliens Area 51 | एरिया51अमेरिका