अगर Asteroid धरती पर गिरा तो NASA उसे ऐसे खत्म करेगा Mission DART And HAMMER

एस्ट्रॉयड को निपटने के लिए नासा की तैयारी

दोस्तों आज हम एक ऐसे Asteroids के बारे में जानने वाले हैं जो आने वाले समय में हमारी धरती से टकरा जाएगा जी हां दोस्तों में बात कर रहा हूं Asteroid Bennu  और  Asteroid Apophis 13 अप्रैल 2029 के दिन यह एस्ट्रॉयड हमारी धरती से टकराने के लिए बड़ी तेजी से आगे बढ़ेगा और इसकी धरती से टकराते ही लाखों लोगों की जान जाएगी तो ऐसी स्थिति में हम इंसान दुनिया के सबसे उन्नत प्रजाति होने के कारण हमारा फर्ज बनता है कि हम इंसान इस एस्टेरॉइड से मुकाबला करें और इस धरती पर जीवन को बरकरार रखें इसलिए इस एस्ट्रॉयड से बचने के लिए हम इंसानों को धरती की तरफ आ रहे खतरनाक Asteroids को पावरफुल वेपन की मदद से ब्लास्ट करना होगा ऐसा करने से दो ही चीजें हो सकती है या तो वह एस्ट्रोराइड धरती से बाहर अंतरिक्ष में ब्लास्ट होकर बिखर जाएगा नहीं तो मामला एस्ट्रॉयड के टकराने से भी ज्यादा खतरनाक हो सकता है तो धरती के बाहर Asteroids पर हमला करने में क्या क्या परेशानी आ सकती है आइए जानते हैं

दोस्तों आपको बता दें साल 2075 में Asteroid Bennu हमारी धरती के सबसे करीब से गुजरने वाला एस्ट्रॉयड होगा

यह उल्कापिंड 0.27% परसेंट हमारी धरती से टकराने की संभावना रहेगी यानी कि तभी हमारी धरती के लिए सबसे बड़ा खतरा होगा क्योंकि इसका आकार एंपायर स्टेट बिल्डिंग से भी बड़ा है और गीजा के पिरामिड से 15 गुना ज्यादा भारी है तो आप इससे अंदाजा लगा सकते हैं कि इतनी बड़ी और इतनी भारी कोई चीज हमारी धरती से टकराती है तो हमारी धरती का क्या हर्ष होगा
 लाखों लोगों की जान जा सकती है asteroid bennu कि हमारी धरती से टकराने से इतनी ज्यादा ऊर्जा रिलीज होगी जो हिरोशिमा पर गिराए गए परमाणु बम से भी 23 गुना ज्यादा अधिक प्रभावशाली होगा और इसी खतरे को निपटने के लिए नासा ने पहले से ही कुछ प्लान करके रखा है और यह एक मिशन पर काम कर रही है

जिसका नाम है hypervelocity asteroid mitigation mission for emergency response

दोस्तों जिसका शॉर्ट फॉर्म है HAMMER इस प्लान के मुताबिक उस उल्कापिंड को  धरती से बाहर अंतरिक्ष में ही ब्लास्ट कर दिया जाएगा और इस मिशन को सक्सेसफुल बनाने के लिए ओ सीरीज रेक्स मिशन पर भी काम कर रहा है नासा नासा एक अंतरिक्ष यान इस Asteroid की तरफ भेजा है जहां से वह अंतरिक्ष यान इस Asteroid के पास पहुंच कर इस Asteroid पर लैंड करेगा और वहां से इस एस्ट्रॉयड के सैंपल लेकर वापस धरती पर आएगा यह अपने आप में एक अविश्वसनीय मिशन है और इस एस्टेरॉइड के सैंपल से इस अंतरिक्ष के कई राज खुलेंगे और हमारे सोलर सिस्टम के निर्माण का भी पता लगाने में भी मदद मिलेगी और धरती को इस एस्ट्रॉयड से बचाने के लिए इस Asteroid से 200 मीटर दूर एक ब्लास्ट करना होगा जिससे इस एस्ट्रॉयड का डायरेक्शन बदल जाएगा और अगर ऐसा नहीं हुआ और यह प्लान फेल हुआ तो  पावरफुल न्यूक्लियर वेपन से सीधा इस एस्ट्रोराइड को ब्लास्ट करना होगा  लेकिन ऐसा करने में अगर कोई गड़बड़ी हुई तो नतीजा बिल्कुल उल्टा हो सकता है ऐसे में स्थिति और बिगड़ सकती है जो एस्ट्रॉयड के टकराने से भी ज्यादा खतरनाक हो सकता है लेकिन अगर  न्यूक्लियर वेपन धरती के एटमॉस्फेयर को छोड़कर बाहर निकल जाता है तो हम पहले से भी ज्यादा सेफ होंगे क्योंकि धरती के बाहर कोई भी वातावरण नहीं है और बिना वातावरण के रेडिएशन जल्दी नहीं खेलेगा और यह अंतरिक्ष में रेडिएशन एक ही जगह पर स्थिर रहेगा जिससे हमारी धरती पर कोई परेशानी नहीं आएगी जिससे हमारी धरती बिलकुल सेफ रहेगी!

तो दोस्तों यह हैमर मिशन जो मैं यह इंफॉर्मेशन आपके साथ शेयर कर रहा हूं यह एक महत्वपूर्ण जानकारी है जिसे आपको जरूर जाननी चाहिए

दोस्तों अगर हैमर मिशन काम नहीं करता है और एस्टेरॉइड जरूरत से ज्यादा बड़ा हो  तो उसके लिए हमारे वैज्ञानिक एक दूसरे मिशन पर काम कर रहे हैं जिसका नाम है डार्ट यानी double storied redirection test दोस्तों दरअसल Dart mission के मुताबिक हमारे वैज्ञानिक 2022 में Asteroid पर न्यूक्लियर वेपन से ब्लास्ट करने वाले हैं और यह धमाका इतना बड़ा होगा किससे 3 TNT इतनी ज्यादा ऊर्जा पैदा होगी और यह धमाका धरती से दूर अंतरिक्ष में किया जाएगा जिससे उस Asteroid पर पावरफुल वेपन से हमला किया जाएगा जिससे वह एस्टेरॉइड छोटे उल्कापिंड के रूप में हमारी धरती पर भी गिर सकते हैं लेकिन यह मिशन सक्सेसफुल रहा तो आने वाले समय में बड़े एस्ट्रॉयड का मुकाबला करने के लिए हमारे वैज्ञानिक तैयार रहेंगे जब अंतरिक्ष में इतना बड़ा धमाका होगा तो कई और प्रॉब्लम भी खड़े हो सकते है जैसे स्पेस में घूम रहे सेटेलाइट को भी नुकसान पहुंच सकता है जिससे धरती पर इंटरनेट की सुविधा अस्तव्यस्त हो जाएगी और अंतरिक्ष में भारी मात्रा में रेडिएशन भी  बिखर सकता है और अगर इस धमाके से एस्ट्रॉयड के बड़े टुकड़े हमारी धरती की तरफ बढ़ गए तो यह धरती पर भी तबाही मचा सकते हैं जो अपने से 10 गुने बड़े विशाल खड्डे बना सकते हैं !

दोस्तों हमारा लेख आपको कैसा लगा हमारे साइड को अपना ईमेल डाकर सब्सक्राइब कर ले ताकि ऐसे ही इंटरेस्टिंग रोचक जानकारी आपको मिलते रहे !

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पटेल समाज क्रिकेट प्रतियोगिता बडावली 2020 सभी टीमों का रिजल्ट "बाणाकला" चैंपियन

मृत्युभोज बंद होना चाहिए या नहीं मृत्युभोज एक कुप्रथा है समाज में मृत्युभोज बंद करें

area 51 kya hai | area51 क्या है | aliens Area 51 | एरिया51अमेरिका